मंत्रियों के साथ बैठक रही बेनतीजा, कबीर पंथियों ने कहा - बातों को अनसुना किया तो करेंगे उग्र आंदोलन

मंत्रियों के साथ बैठक रही बेनतीजा, कबीर पंथियों ने कहा – बातों को अनसुना किया तो करेंगे उग्र आंदोलन

Raipur

रायपुर। आंगनबाड़ी केंद्रों और मध्यान्ह भोजन में अण्डा शामिल किये जाने का विवाद तूल पकड़ता जा रहा है। इसी बीच आज कबीरपंथियों की सरकार के मंत्रियों के साथ हुई बैठक बेनतीजा रही। मंत्रियों की समिति के साथ हुई बातचीत के बाद भी कबीर पंथियों के रुख में जरा भी बदलाव नहीं आया है। कबीर पंथी अभी भी विरोध पर डटे हुए हैं। उनके द्वारा सरकार को मिड डे मिल से अंडा हटाने दो टूक कह दिया है। इसके साथ ही उन्होंने सरकार को चेतावनी भी दे दी है कि अगर सरकार उनकी बातों को अनसुना करती है तो वे इसके विरोध में उग्र आंदोलन करेंगे। अब मामले में का अंतिम फैसला मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के हाथों में है।

सर्किट हाउस में तकरीबन घंटे भर तक बैठक चली इसमें सरकार द्वारा गठित की गई कमेटी जिसमें मंत्री ताम्रध्वज साहू, शिव डहरिया, प्रेमसाय सिंह टेकाम और अनिला भेड़िया शामिल हैं की कबीर पंथियों के साथ बातचीत हुई। बैठक के बाद स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि पूरे प्रदेश में बच्चों के कुपोषण का जो प्रतिशत है वो 46 प्रतिशत है। जो बच्चे कुपोषित हैं उनको उससे मुक्त करने के लिए खाना दिया जाए। उन्होंने कहा कि कबीर पंथी समाज से चर्चा हुई है उनकी बातों को हमने सुना है और इस संबंध में मुख्यमंत्री से बात कर निर्णय लेंगे। उन्होंने बात यह रखा है कि जो उसमें अंडा है उसे नहीं रखा जाना चाहिए, मेनू से हटाने कहा है।

Share this: