डेंगू व मलेरिया से निपटने दुर्ग निगम कर रहा यह काम, 65 हजार परिवारों को होगा लाभ

डेंगू व मलेरिया से निपटने दुर्ग निगम कर रहा यह काम, 65 हजार परिवारों को होगा लाभ

Durg

दुर्ग। नगर निगम दुर्ग द्वारा बारिश के समय डेंगू, मलेरिया जैसे संक्रामक बीमारी से बचाव के लिए विशेष अभियान चलाने का निर्णय लिया है। इसके तहत शहर के लगभग 65 हजार घरों में डेंगू लार्वा खत्म करने दवाई का वितरण किया जाएगा। इसके लिए निगम ने एक बाटल दवाई प्रत्येक घर वितरण करने की योजना बनाई है। महापौर चंद्रिका चंद्राकर व आयुक्त सुनील अग्रहरि के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा इसकी तैयारी की जा रही है।
इस संबंध में महापौर व आयुक्त द्वारा आज डाटा सेंटर में निगम के समस्त विभागों की बैठक लेकर आपदा प्रबंधन, बाढ़ नियंत्रण और अतिवृष्टि के तहत की जाने वाले कार्यो की जानकारी अधिकारियों से ली। बैठक में लोक कर्म प्रभारी दिनेश देवांगन, राजस्व प्रभारी शिवेन्द्र परिहार, गरीबी उपशमन प्रभारी गायत्री साहू, पर्यावरण प्रभारी विजय जलकारे, कार्यपालन अभियंता ए0के0 दत्ता, राजेश पाण्डेय, सहा अभियंता आरके जैन, जगदीश केशरवानी, जितेन्द्र समैया, राजू पोद्दार, राजस्व अधिकारी आरके बंजारे, स्वास्थ्य अधिकारी उमेश कुमार मिश्रा व समस्त विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
घर घर पहुंच होगा दवा का वितरण
वार्डो में मच्छर उन्मूलन के लिए कैम्प लगाकर डेंगू लार्वा खत्म करने एक-एक बाटल प्रत्येक घरों में वितरण करने की योजना बनायी गई है ताकि पूर्व वर्ष की भांति शहर डेूंग महामारी की चपेट में आ सके। इसके लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, मितातनन और निगम के कर्मचारियों का सहयोग लिया जावेगा। प्रत्येक घर में दवाई का एक बाटल में डेंगू लार्वा खत्म करने की दवाई होगी जिसमें से केवल दो बूंद कूलर में अथवा जमा पानी में डालने से मच्छर का लार्वा खत्म हो जाएगा। इसके अलावा उन्होंने शहर में फागिंग करने और जला आईल का तेल नालियों में छिड़काव कार्य प्रारंभ करने निर्देश दिये। उन्होंने बाढ़ नियंत्रण और आपदा प्रबंधन के लिए गोताखोर, अस्थायी नाव, अतिरिक्त लेबर, गैंती, रापा, झवड़ी, कुदाल, बांस बल्ली, रस्सी आदि सामान उपलब्ध कर रखने के निर्देश अधिकारियों को दिए।

Share this: