सूरत के बाद भिलाई के कोचिंग सेंटर्स में न हो हादसा, कलेक्टर से करेंगे जांच की मांग

बड़ा हादसा: सूरत में इमारत में भीषण आग लगने से 17 बच्चों की मौत

National

पीएम मोदी जताया दुख, गुजरात के सीएम ने दिए जांच के आदेश
सूरत। सूरत के एक बहुमंजिला वाणिज्यिक इमारत में शुक्रवार दोपहर भीषण आग लग गई। इस घटना के बाद इमारत में स्थित एक कोचिंग सेंटर के छात्र जान बचाने के लिए इमारत से कूदने लगे जिससे अब तक करीब 17 बच्चों की मौत हो गई। यह दुर्घटना तक्षशिला कॉम्प्लेक्स में हुई है जो सूरत के सरथाना इलाके में स्थित है। अधिकारियों ने बताया कि आग तक्षशिला कॉम्प्लेक्स परिसर की तीसरी और चौथी मंजिल पर लगी। इस हादसे का वीडियो वायरल हुआ जिसमें छात्र इमारत की तीसरी और चौथी मंजिल से कूदते नजर आ रहे हैं। सूरत पुलिस कमिश्नर सतीश कुमार शर्मा ने बताया कि सूरत के सरथाना इलाके में लगी आग में कम से कम 15 लोगों की जान चली गई है। मृतकों की संख्या बढ़ सकती है।
अग्निशमन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि 19 दमकल गाडिय़ों को मौके पर भेजा गया और आग पर काबू पाने के लिए दो हाइड्रोलिक प्लेटफार्म भी बनाए गए हैं। स्थानीय लोग भी बचाव अभियान में अधिकारियों की मदद कर रहे हैं। दमकल अधिकारियों ने बताया कि छात्रों ने आग से बचने के लिए तीसरी और चौथी मंजिल से कूदना शुरू कर दिया था। कई घायल बच्चों को अस्पताल पहुंचाया गया है। आग पर काबू पाने की कोशिश जारी है।
इस घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया। उन्होंने कहा कि गुजरात सरकार से बात करके हर संभव मदद की जाएगी। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्वीट कर मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं और घटना में मारे गए बच्चों के परिजनों को चार लाख रुपये के आर्थिक मदद की घोषणा की है।

Share this: