सब्जी खरीदते समय रहे सावधान, भिलाई में भी रंगीन कर बेची जा रही सब्जियां: नगर निगम के उडऩदस्ते ने आकाशगंगा सब्जी मंडी में पकड़ा मामला

सब्जी खरीदते समय रहे सावधान, भिलाई में भी रंगीन कर बेची जा रही सब्जियां: नगर निगम के उडऩदस्ते ने आकाशगंगा सब्जी मंडी में पकड़ा मामला

Twin City

भिलाई। बाजार में हरी सब्जियां, मटर व लाल गाजर देख अक्सर लोग आकर्षित हो जाते हैं लेकिन उन्हें क्या पता कि आकर्षक दिखाने के लिए इन्हें रंगीन किया जा रहा है। सब्जियों को रंगीन कर बेचने का धंधा किस प्रकार फल फूल रहा है यह देखना है तो आकाश गंगा सुपेला स्थित सब्जी मंडी का दौरा जरूर कर लें। आज नगर निगम की उडऩ दस्ता टीम ने एक सब्जी व्यवसायी को गाजर और मटर को रंगीन पानी में डाले हुए रंगे हाथों पकड़ा। फिर क्या था निगम की उडऩदस्ता टीम ने पूरी सब्जियों को जब्त कर व्यवसायी पर 10 हजार का जुर्माना ठोंक दिया।

बता दें कि इन दिनों नगर पालिक निगम भिलाई की उडऩदस्ता टीम निगम क्षेत्र के अंतर्गत विभिन्न तरह के दुकानदारों के यहां लगातार कार्रवाई कर रही है। मिलावटी वस्तुओं व बासी खाद्य पदार्थों को लेकर लगातार दुकानदारों पर जुर्माना लगा रही है। इसी कड़ी में आज उडऩदस्ता की टीम ने सुपेला के आकाशगंगा सब्जी मार्केट का निरीक्षण किया। टीम ने निरीक्षण करते हुए जय मां विंध्यवासिनी सब्जी भंडार पहुंची। जहां यह पाया गया कि गाजर एवं मटर को धोकर उसे रंग के बर्तन में डालकर विक्रय के लिए आकर्षक बनाया जा रहा। टीम ने रंग किए हुए गाजर एवं रंग के डिब्बे को जप्त कर 10000 रुपए जुर्माना व्यवसायी से वसूल किया और पंचनामा बनाकर लिखित रूप से लिया गया कि दोबारा इस प्रकार से सब्जियों को रंगने का काम न करें।

उडऩदस्ता टीम लगातार कर रही है कार्रवाई

खाद्य पदार्थों में इस प्रकार की मिलावट से मानव शरीर के सेहत को सीधा नुकसान पहुंच सकता है, फिर भी ऐसी गतिविधियां सामने आने से ऐसे लोगों पर निगम की उडऩदस्ता टीम अपनी नजर बनाए हुए हैं। निगम की यह टीम एक्सपायरी खाद्य एवं पेय पदार्थों की जब्ती कई दफा बना चुकी है। कुछ दिनों पूर्व आकाशगंगा के ही बुरहानपुर जलेबी भंडार से बड़ी मात्रा में फफूंद युक्त खोवा जप्त का जुर्माना वसूल किया गया था। जोन क्रमांक 3 क्षेत्र के सेक्टर एक मे साईं कैटरर्स एवं डेकोरेटर्स द्वारा विवाह समारोह के आयोजन पश्चात बचे हुए खाद्य पदार्थ एवं डिस्पोजल, पानी पाउच को खुले मैदान में डाल दिया गया था जिसको आवारा पशु खा रहे थे। इस पर कैटरर्स एंड डेकोरेटर्स को नोटिस देने के साथ ही थाने में भी सूचना दी गई है। रिसाली में भी इसी प्रकार की घटना सामने आई थी तब कैटरर्स के विरुद्ध थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी।

खाद्य पदार्थों में मिलावट स्वास्थ के साथ खिलवाड़

खाद्य पदार्थों में मिलावट सीधे स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ है। व्यवसायियों को थोड़े से लाभ के लिए ऐसा नहीं करना चाहिए। ऐसे मामलों में नगर निगम सख्त है और कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

पीसी सार्वा, जनसंपर्क अधिकारी
नगर निगम भिलाई

Share this: