इस शख्स ने स्कूलों में संविधान की प्रस्तावना को लागू कराने में निभाई अहम भूमिका: अपने स्कूल से की पहल

इस शख्स ने स्कूलों में संविधान की प्रस्तावना को लागू कराने में निभाई अहम भूमिका: अपने स्कूल से की पहल

Raipur

रायपुर। अभनपुर ब्लॉक स्थित ग्राम छछान पैरी के शाउमा स्कूल में सत्र के प्रारंभ से ही संविधान के उद्देशिका का वाचन किया जा रहा है। शासकीय उमा विद्यालय छछान पैरी में व्याख्याता के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे ललित साहू ने संविधान की उद्देशिका को स्कूलों में लागू कराने पहल करते हुए मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर सुझाव दिया था। इनके सुझाव के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा स्कूलों में संविधान की प्रस्तावना का वाचन कराया जाने का निर्णय लिया गया है जो एक दूरगामी निर्णय है। इस निर्णय से संविधान के प्रति बच्चों में बचपन से ही सम्मान पैदा होगा। वर्तमान में जहां सामाजिक मूल्यों के ह्रास और सामाजिक ताना-बाना में बिखराव हो रहा है ऐसे में यह अहम साबित होगा। बच्चों में प्रारंभ से ही संवैधानिक मूल्यों को विकसित करने की यह पहल एक दूरगामी पहल है। साथ ही या अन्य राज्यों के लिए भी अनुकरणीय होगा।

ललित ने अपने स्कूल में सत्र के प्रारंभ से ही संविधान के उद्देश्य का वाचन नियमित रूप से कराने सकारात्मक माहौल बनाया और आज नियमित रूप से बच्चे वाचन कर रहें है। यहां के बच्चों में संविधान के प्रति गजब की ललक और जागरूकता देखते ही बनती है। यहां तक बच्चों को प्रस्तावना के मूल शब्दों जैसे सम्प्रभुता, धर्मनिरपेक्ष गणराज्य का अर्थ सही मायनों में मालूम है। बच्चों को प्रस्तावना कंठस्थ याद है और प्रार्थना के दौरान ही इसका वाचन प्रतिदिन किया जा रहा है। संभवत यह प्रदेश का पहला स्कूल है जहां इस तरह का वाचन किया जा रहा है।

व्याख्याता ललित साहू ने कहा कि बच्चों में यदि प्रारंभ से ही संवैधानिक मूल्य, बराबरी और समरसता का पाठ पढ़ाया जाए तो एक अच्छे और समतामूलक समाज के निर्माण में यह की महत्वपूर्ण होगा। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा है कि यह निर्णय राज्य के बच्चों में संवैधानिक मूल्यों के साथ अधिकार तथा कर्तव्य को समझने में और इसे जीवन में उतारने में कारगर सिद्ध होगा। स्कूल के सभी छात्र-छात्राओं सहित अध्यापकगण ने इस फैसले का स्वागत उत्साह के साथ किया है। उनका कहना है कि स्कूल आज इस निर्णय से गौरवान्वित महसूस कर रहा है। छात्र छात्राओं और स्कूल बिरादरी की ओर से मुख्यमंत्री का आभार ब्यक्त किया गया है।

Share this: