एबीवीपी के कार्यक्रम में शामिल हुए गडकरी, कहा - आरएसएस केवल सरकार बनाने तक सीमित नहीं बल्कि राष्ट्र निर्माण उनके लिए ज्यादा अहम

फिर सुर्खियों में आए ये केंद्रीय मंत्री, कहा – जो तीन बार फेल होता है वो मंत्री बनता है, पढ़ें और क्या कहा इन्होंने –

National

नागपुर। अपने बयानों को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहने वाले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी एक बार फिर से चर्चा में आ गए हैं। इस बार उन्होंने कहा कि राजनीति में आने के लिए किसी क्वालिटी की जरूरत नहीं होती। उन्होंने कहा कि जो मेरिट में आता है, वह आईएएस और आईपीएस बनता है। जो सेकेंड क्लास पास होता है, वह चीफ इंजीनियर बनता है। लेकिन, जो तीन बार फेल होता है, वह मंत्री बनता है। उन्होंने आगे कहा, मुझे झूठ बोलना नहीं आता है। जो कहना है, वो मुंह पर कहता हूं। इससे कई बार मुझसे लोग नाराज भी हो जाते हैं। कुछ लोग झूठा रोते हैं और झूठा हंसते हैं। उनके मन में जिसके लिए प्यार नहीं होता है, उसके लिए अच्छा-अच्छा बोलते हैं, लेकिन मैं कभी झूठ नहीं बोलता हूं। गडकरी ने कहा- चतुर और चतरा इन दो शब्दों में अंतर है। उन्होंने कहा, मैं दौड़ में नहीं हूं और जोर देकर कहता हूं कि मेरा मंत्र सिर्फ अथक काम करना है। मैंने राजनीति और काम का कभी कोई हिसाब-किताब नहीं किया। न ही कभी कोई लक्ष्य तय किया। मैं तो चला, जिधर चले रास्ता। मुझको जो काम दिखा, मैं वह करता गया। मैं अपने देश के लिए सर्वश्रेष्ठ काम करने में भरोसा करता हूं।

Share this: