सीएम बघेल की घोषणा: लवन को मिलेगा पूर्ण तहसील का दर्जा

सीएम बघेल की घोषणा: लवन को मिलेगा पूर्ण तहसील का दर्जा

Raipur

रायपुर। मुख्यमंत्री Ÿभूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास पर आयोजित जनचौपाल भेंट मुलाकात में बलौदा बाजार जिले के लवन से आए नागरिकों के आग्रह पर लवन उप तहसील को पूर्ण तहसील का दर्ज देने की घोषणा की।

नागरिकों ने मुख्यमंत्री को बताया कि उप तहसील में 70 ग्राम पंचायतें हैं। अकसर नागरिकों को तहसील के कार्य से बलौदाबाजार जाना पड़ता है, लवन क्षेत्र के कई गांवों से काफी अधिक दूरी होने से ग्रामीणों को असुविधा होती है। लवन में तहसील कार्यालय खुलने से काफी आसानी होगी। लवन में कार्यालय के लिये लगभग 40 एकड़ शासकीय जमीन उपलब्ध है। मुख्यमंत्री ने नागरिकों की बातें सहानुभूतिपूर्वक सुनीं और लवन को पूर्ण तहसील का दर्जा देने की घोषणा की। नागरिकों ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। लवन से आए प्रतिनिधिमंडल में लवन की सरपंच श्रीमती शकुंतला साहू सहित सर्वश्री अनुराग पाण्डेय, देवीलाल बरवे, प्रताप डहरिया, मनुराम बाजरे सहित अनेक नागरिक शामिल थे।

मुख्यमंत्री ने जररूतमंदों को स्वीकृत की आर्थिक सहायता

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जनचौपाल भेंट-मुलाकात में बड़ी संख्या में जरूरतमंदों को आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की। मुख्यमंत्री ने कवर्धा जिले के रेवाबनपारा निवासी भद्दू राम साहू को 5 हजार रुपए, रायपुर तरूण नगर निवासी दिव्यांग विनोद रजक को 5 हजार रुपए, रायपुर संजय नगर निवासी रेणु शर्मा को 10 हजार रुपए, असद खान को शिक्षा के लिए 5 हजार रुपए, मौहदापारा निवासी माला बाई को 5 हजार रुपए, श्रीमती शबनम बानो को 5 हजार रुपए, श्रीमती रिजबाना बेगम को 5 हजार रुपए और राजनांदगांव के शंकरपुर निवासी श्रीमती प्रीति शर्मा को 5 हजार रुपए, गिर्रा पलारी के बलाराम फेकर को 5 हजार रूपए की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की है। इसी तरह बलौदाबाजार भाटापारा के कामता यादव को 5 हजार रुपए, रायपुर मौहदापारा की श्रीमती जहगीरा बेगम को 5 हजार रुपए, मोहम्मद वकील को 5 हजार रुपए, बसना दरूगपाली के जगबन्धू को 5 हजार रुपए, मठपुरैना निवासी श्रीमती सरस्वती साहू को 5 हजार रुपए, महासमुन्द अमावश के राजकुमार जोशी को 5 हजार रुपए, अभनपुर खोला के केवलचंद को 5 हजार रुपए, रायगढ़ के सरोज सिंह को 10 हजार रुपए व टाटीबंध बस्ती के निरजंन पठारी को 5 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राशि की स्वीकृति प्रदान की है।

Share this: