छात्र-छात्राओं ने स्वच्छता व सरंक्षण का सीखा पाठ: जाने कैसा रहा जिंदगी न मिलेगी दोबारा का पहला दिन

छात्र-छात्राओं ने स्वच्छता व सरंक्षण का सीखा पाठ: जाने कैसा रहा जिंदगी न मिलेगी दोबारा का पहला दिन

Twin City

भिलाई। चैम्बर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्री भिलाई इकाई द्वारा अपना महत्वाकांक्षी कार्यक्रम जिंदगी न मिलेगी दोबारा का आज से आगाज किया। इसका आगाज आज सरस्वती शिशु मंदिर हाउसिंग बोर्ड से किया गया। स्कूल के छात्र-छात्राओं को भिलाई चैम्बर के प्रतिनिधियों व विशेषज्ञों ने कई महत्वपूर्ण जानकारियां दी। यातायात नियमों से लेकर पर्यावरण व जल संरक्षण के उपायों को जाना। 31 अगस्त तक चलने वाले इस विशेष कार्यक्रम के तहत चैम्बर द्वारा स्कूल कॉलेजों में स्वच्छता, यातायात नियमों के पालन, जल संरक्षण व पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधरोपण के प्रति छात्र-छात्राओं को जागरूक किया जाएगा।
जिंदगी न मिलेगी दोबारा के आगाज के दौरान आज पहले दिन मुख्य अतिथि के रूप में सुरेंद्र सिंह केम्बो उपस्थित रहे। विशेष अतिथि के रूप में लक्ष्मण आयलानी उपस्थित रहे। कार्यक्रम की शुरुआत में संयोजक अजय भसीन ने कार्यक्रम का उद्देश्य बताते हुए कहा कि आने वाले युवा पीढ़ी का भविष्य सुरक्षित करने हेतु इन ज्वलन्त समस्याओं पर यह सार्थक कार्यक्रम भिलाई चैम्बर आयोजित कर रहा है। वहीं कार्यक्रम के दूसरे संयोजक गारगी शंकर मिश्र ने कहा स्वछता को जीवन की आदत में शामिल करने का संदेश दिया। उन्होंने कहा स्वच्छ रहेंगे तो अनेक प्रकार की बीमारियों से भी दूर रहेंगे। मौके पर उन्होंने छात्र-छात्राओं को स्वच्छता का संकल्प भी दिलाया। वहीं चैम्बर के प्रतिनिधियों ने पौघरोपण भी किया। मुख्य अतिथि सुरेन्द्र सिंह कैम्बो ने चैम्बर के इस प्रयास की सराहना की। गया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से मनोज बक्तानि, कुलदीप सिंह, राहुल चेलानी, अरविंदर सिंह, अंकित पालीवाल, सुरेंद्र सॉव, संजय कुकरेजा, अक्षय गुप्ता, सुनील मिश्र, दिनेश जांगड़े आदि उपस्थित थे।
पार्षद पियुष मिश्रा ने जल सरंक्षण का पढ़ाया पाठ
पार्षद पियूष मिश्रा ने स्कूली छात्र-छात्राओं को वाटर हार्वेस्टिंग पर महत्वपूर्ण जानकारी दी। इस मौके पर उन्होंने जल के दुरुपयोग का लेकर चिंता जताते हुए स्कूली बच्चों को सचेत किया। उन्होंने कहा कि जल है तो कल है इस बात को गांठ बांध ले क्योंकि जिस तेजी से भूजल घट रहा है उसके कारण आगे जाकर हमें जल संकट से गुजरना होगा। इसके संरक्षण का आसान तरीका है वाटर हार्वेस्टिंग। इससे हमारे द्वारा उपयोग किए गए जल को फिर से धरती के अंदर भेजा जा सकता है। कार्यक्रम के दौरान ट्रैफिक पुलिस की ओर से पहले राजमणि ने ट्रैफिक नियमों की जानकारी दी। अच्छी ड्राइविंग के लिए निकिता सिंह व आशिष पाल को हेलमेट देकर सम्मानित किया गया। नगर निगम की ओर से अजय शुक्ला ने सफाई पर अपनी बात कही। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से मनोज बक्तानि, कुलदीप सिंह, राहुल चेलानी, अरविंदर सिंह, अंकित पालीवाल, सुरेंद्र सॉव, संजय कुकरेजा, अक्षय गुप्ता, सुनील मिश्र, दिनेश जांगड़े व अन्य उपस्थित थे।

Share this: