निलंबित आईपीएस मुकेश गुप्ता की जमानत याचिका पर सुनवाई पूरी, अदालत ने सुरक्षित रखा फैसला

बार एसोसिएशन ने वापस लिया इस जस्टिस की कोर्ट के बहिष्कार का फैसला, कार्यप्रणाली को लेकर उठाए थे सवाल

Bilaspur

बिलासपुर। हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने आज जस्टिस शरद गुप्ता की कोर्ट के बहिष्कार के फैसले को वापस ले लिया है। हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस के साथ ही दो जस्टिसों के हस्तक्षेप के बाद ये खींचतान खत्म हो गई है। दरअसल हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने जस्टिस शरद गुप्ता की कार्यप्रणाली को लेकर गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने इसकी शिकायत सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस, प्रधानमंत्री, विधि एवं विधायी मंत्री के साथ ही छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस से भी शिकायत की थी और जस्टिस शरद गुप्ता को अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने की मांग की थी।

मामले के तूल पकड़ने के बाद हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस, जस्टिस प्रशांत मिश्रा और मनीन्द्र श्रीवास्तव के साथ बार एसोसिएशन की बातचीत हुई। आश्वासन के पश्चात बार एसोसिएशन ने जस्टिस शरद गुप्ता की कोर्ट के बहिस्कार का फैसला वापस ले लिया।

Share this: