भारत में नमस्ते ट्रंप: मोटेरा स्टेडियम में बोले डोनाल्ड ट्रंप- चैंपियन हैं पीएम मोदी: जाने ट्रंप के भाषण की खास बातें

भारत में नमस्ते ट्रंप: मोटेरा स्टेडियम में बोले डोनाल्ड ट्रंप- चैंपियन हैं पीएम मोदी: जाने ट्रंप के भाषण की खास बातें

National

अहमदाबाद (एजेंसी)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपनी पत्नी मिलेनिया ट्रंप क साथ दो दिवसीय भारत दौरे पर हैं। पीएम मोदी ने अपने भाषण के साथ ट्रंप का स्वागत किया। पीएम मोदी ने कहा कि आज मोटेरा स्टेडियम में एक नया इतिहास बन रहा है, आज हम इतिहास को दोहराते हुए भी देख रहे हैं। ट्रंप ने नमस्ते के साथ अपना भाषण शुरू किया और कहा कि भारत की विवधता अभूतपूर्व है। यहां सभी धर्म के लोग मिलजुलकर रहते हैं जो किसी और देश में देखने को नहीं मिलता। अमेरिका हमेशा भारत का वफादार दोस्त रहेगा। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने इस दौरान पीएम मोदी को चैंपियन की पदवी भी दे डाली।

इससे पहले सुबह ट्रंप अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुंचे, जहां पर पीएम मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़कर उन्हें गला लगातर स्वागत किया। उनके साथ फस्र्ट लेडी मेलानिया ट्रंप, बेटी इवांका, दामाद जे. कुशनेर और अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओब्रायन, वाणिज्य मंत्री विलबर रॉस, ऊर्जा मंत्री डैन ब्रोइलेट समेत अन्य उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल के सदस्य हैं। अहमदाबाद एयरपोर्ट से निकलने के बाद राष्ट्रपति ट्रंप और पीएम मोदी रोड शो करते हुए 22 किलोमीटर का सफर तय कर साबरमती आश्रम पहुंचे। वहां पर ट्रंप ने और मेलानिया ने करीब 10 मिनट का वक्त बिताया। इस दौरान उन्होंने चरखा चलाकर सूत काटने की कोशिश की। ट्रंप ने दो मिनट तक चरखा चलाने का प्रयास किया, विजीटर बुक में ट्रंप दंपति ने अपने विचार लिखे। पीएम मोदी ने गांधी जी के तीन बंदर की मूर्ति दिखाकर उन्हें इसका महत्व बताया। उसके बाद वे मोटेरा में ‘नमस्ते ट्रंपÓ कार्यक्रम के लिए निकल गए।

आतंकवाद पर ट्रंप ने कहा कि हमारा प्रशासन आतंक के खिलाफ कड़े एक्शन ले रहा है, पाकिस्तान पर भी हमने दबाव बनाया है। पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ एक्शन लेना ही होगा, हर देश को अपने सुरक्षित करने का अधिकार है। पाकिस्तान का जिक्र आते ही स्टेडियम तालियों से गूंज उठा। हमारे नागरिकों की सुरक्षा पर खतरा बनने वालों को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि हमारा देश इस्लामिक आतंकवाद का शिकार रहा है, इसके खिलाफ हमने लड़ाई लड़ी है। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि भारत और अमेरिका आतंकवाद के खिलाफ लडऩे और अपनी सीमाओं को सुरक्षित रखने के प्रति प्रतिबद्ध हैं। ट्रंप ने आगे कहा कि हमारे पाकिस्तान से अच्छे संबंध हैं। हमें लग रहा है कि पाकिस्तान कुछ कदम उठा रहा है। ये पूरे दक्षिण एशिया के लिए जरूरी है। भारत को इसमें अहम योगदान निभाना है। उन्होंने कहा कि कट्टर इस्लामिक आतंकवाद से अपने नागरिकों को बचाने के लिए हम दोनों साथ मिलकर काम करेंगे। हमने आईएसआईएस दरिंदे बगदादी को मार गिराया। हम पाकिस्तान के साथ मिलकर सीमापार आतंकवाद को रोकने की कोशिश करेंगे।

मोदी बोले- अमेरिका के साथ सबसे ज्यादा युद्धाभ्यास करता है भारत

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के संबोधन के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ट्रंप ने भारत का गौरव बढ़ाया है। भारत सबसे ज्यादा अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास करता है। आज जिस देश के साथ भारत का सबसे व्यापक अनुसंधान और विकास साझेदारी पार्टनरशिप है- वो अमेरिका है। पीएम मोदी ने कहा, भारत ने सबसे ज्यादा सैटेलाइट भेजने का रिकॉर्ड बनाया है। हर क्षेत्र में हमारी दोस्ती का दायरा बढ़ रहा है। नई चुनौतियां बदलाव की नींव रख रही हैं। दशक की शुरुआत में ट्रंप का भारत आना सम्मान की बात। अमेरिका भारत का सबसे भरोसेमंद साथी है। आतंकवाद को हराने में हम साथ हैं। दोनों देशों का डिजिटल सहयोग बढ़ेगा।

Share this: