जगदलपुर के निर्माणाधीन स्टील प्लांट में आग, मशीन टेस्टिंग के दौरान हुआ हादसा

जगदलपुर के निर्माणाधीन स्टील प्लांट में आग, मशीन टेस्टिंग के दौरान हुआ हादसा

Bastar

जगदलपुर। जगदलपुर में आज एक हादसा हो गया। नगरनार इलाके के निर्माणाधीन स्टील प्लांट के कन्वेयर बेल्ट सहित रॉ मटेरियल हैडंलिंग सिस्टम में आग लग गई। आग लगने की खबर मिलते ही पूरे प्लांट के अंदर अफरा-तफरी का माहौल बन गया। काफी मशक्कत के बाद प्लांट के अंदर मौजूद फायर बिग्रेड की मदद से आग पर काबू पाया जा सका। आरोप है कि प्लांट के अंदर लगी आग को प्रबंधन दबाने की कोशिश करता रहा। कहा जा रहा है कि प्लांट के अंदर मौजूद किसी भी मजदूर को इस हादसे की कोई भनक तक नहीं होने दी गई। बताया जा रहा है कि प्लांट के अंदर जहां पर आग लगी वहां वेल्डिंग का काम चल रहा था। फिलहाल, प्रबंधन की ओर से किसी तरह की कोई जानकारी नहीं दी गई है।
सूत्रों के मुताबिक हेडंलिंग मशीन की टेस्टिंग के दौरान कनवेयर बेल्ट में घर्षण होने की वजह से आग ने इतना भयावह रूप ले लिया। लेकिन इस घटना से एक बात साफ हो गया है कि प्लांट के अंदर चल रहे निर्माण कार्य की गुणवत्ता का ख्याल नहीं रखा गया है। गौरतलब हो कि हादसा तब हुआ जब प्लांट निर्माणाधीन है। अब इस घटना के बाद आशंका जताई जा रही है कि प्लांट के शुरू होने के बाद और भी बड़ा हादसा हो सकता है।
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक हेडलिंग कन्वेयर बेल्ट का काम भेल कम्पनी के माध्यम से किया जा रहा है। जिस प्रोजेक्ट में आग लगी है उस प्रोजेक्ट का काम भेल कम्पनी को साल 2011 में तीस माह के भीतर पूरा करना था। लेकिन नौ साल बीत जाने के बाद भी कम्पनी अब तक अपना काम पूरा नहीं कर सकी है। इस देरी के चलते कम्पनी को बीते जून माह में टर्मिनेट भी किया गया था। लेकिन अगस्त में कम्पनी को काम दुबारा शुरू करने के लिए कहा गया। हादसे में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।
प्लांट प्रबंधन पर आरोप है कि सुरक्षा मानकों का ध्यान नहीं रखा गया इस वजह से ये हादसा हो गया। जानकारी के मुताबिक इस्पात मंत्रालय द्वारा जून-जुलाई में कमीशनिंग का काम शुरू किए जाने का अल्टीमेटम दिया जा चुका है। ऐसे में काम को जल्द पूरा करने के चलते इस तरह की दुघर्टनाएं हो रही हैं। बता दें कि प्लांट में आग लगने की ये चौथी घटना है।

Share this: