इस रेलवे ने बेटिकट यात्रियों से सालभर में बातौर जुर्माना वसूल कर लिए 34 करोड़ रुपए

Raipur

सघन टिकट चेकिंग अभियान से 2018-19 में रेलवे को मिले 34.23 करोड रुपए बतौर भाडा व जुर्माना
रायपुर।
बेटिकट यात्रियों के खिलाफ कार्रवाई की कड़ी में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा वित्तीय वर्ष 2018-19 में जुर्माने के तौर पर 34 करोड़ रुपए से अधिक की राशि वसूल की है। टिकट धारियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के तीनों रेल मंडलों बिलासपुर, रायपुर एवं नागपुर में विभिन्न रेल खंडों पर लगातार सघन टिकट चेंिकंग अभियान चालाया गया। यह अभियान प्रधान मुख्य वाणिज्य प्रबंधक दपूम रेलवे एम. रवि. बाबू के आदेशानुसार एवं मुख्य वाणिज्य प्रबंधक अजय शंकर झा के दिशानिर्देश पर समय-समय पर चलाया गया।
अभियान के दौरान वर्तमान वित्तीय वर्ष 2018-19 में पूरे दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में टिकट चेंिकग के दौरान कुल 13.03 लाख मामले पकडे गये है। जिनसे बतौर भाडा एवं जुर्माने के 34. 23 करोड रूपये वसूले गये। जबकि विश्रीय वर्ष 2017-18 में 10.80 लाख मामलो से 26.21 करोड रूपये वसूले गए थे। इसी प्रकार वर्तमान विश्रीय वर्ष में पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 20.60 प्रतिशत अधिक मामलो से बतौर भाडा एवं जुर्माने के रूप में 30.58 प्रतिशत अधिक वसूले गए।
उपरोक्त मामलों एवं वसूली गई राशि में बिना टिकट के एवं अनियमित व अपर्याप्त टिकट के मद में 6.18 लाख मामलों से 27.62 करोड रूपये बतौर भाडा एवं जुर्माने के वसूले गए। जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि में बिना टिकट के एवं अनियमित/अपर्याप्त टिकट की तुलना में इस वर्ष 30.94 प्रतिशत मामलों में एवं 35.43 प्रतिशत की अधिक राशि वसूली गयी है। इसी प्रकार वित्तीय वर्ष 2018-19 में बिना बुक किये गये 6.86 लाख मामले पकडे गए जिनसे बतौर जुर्माना व भाडा के 6.61 करोड रूपये वसूले गए, जबकि वित्तीय वर्ष की तुलना में वर्तमान वित्तीय वर्ष में 13.60 प्रतिशत अधिक राशि वसूली गयी एवं 12.58 प्रतिशत अधिक मामले पकडे गये। वर्तमान वित्तीय वर्ष 2018-19 में पूरे दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में बिना टिकट, अनियमित टिकट एवं बिना बुक किये गये लगेज सहित इन मामलो में रेलवे बोर्ड के द्वारा दिये गये लक्ष्य से 5.28 प्रतिशत अधिक मामले है एवं 2.22 प्रतिशत अधिक की राशि प्राप्त की गई।

Share this: